Share
क्या प्रज्ञा ठाकुर को पार्टी से निकालने की सोच रही है भाजपा ?

क्या प्रज्ञा ठाकुर को पार्टी से निकालने की सोच रही है भाजपा ?

जब से प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति से हटाया गया है और उनसे भाजपा की संसदीय दल की बैठक में भी न आने के लिए कहा गया है तब से राजनीतिक हल्कों में ये अटकलें काफी तेज हैं कि भाजपा इस कट्टर हिन्दू नेता को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने जा रही है.

दरअसल प्रज्ञा ठाकुर जिस भाषा और सोच का प्रतिनिधित्व करतीं हैं उसके पक्ष में खड़ा होना भाजपा के लिए भी आसान नहीं है और इसका अंदाजा पार्टी को एक बार फिर उस दिन हो गया जब प्रज्ञा ने संसद के भीतर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारो नाथू राम गोडसे को देश भक्त कह दिया.

इसके बाद भी भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने संसदीय कार्य मंत्री को पत्र लिखकर रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति से प्रज्ञा ठाकुर को हटाने के लिए कह दिया.

यही नही बताया जा रहा है कि प्रज्ञा ठाकुर से ये भी कह दिया गया है कि  ज ब तक उनसे न कहा जाए उन्हें भाजपा की किसी भी संसदीय बैठक में आने की भी जरुरत नहीं है.

वैसे भी कट्टर हिन्दुत्व के प्रसार के लिए  प्रज्ञा ठाकुर को मध्य प्रदेश से चुनाव लड़ाने का फैसला  संघ का था न कि भाजपा और उनके चुनाव की पूरी कमान भी संघ के लोगो के ही हाथों में थी क्योंकि भाजपा इसे राजनीतिक नजरिए से ठीक नहीं मान रही थी.

अब देखना है कि संघ की नाराजगी मोल लेकर भाजपा प्रज्ञा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाती है या अभी कुछ और दिन ऐसे ही बर्दाश्त करती रहती है.

Spread the love

Leave a Comment