Share
2030 तक अमेरिका से एड्स खत्म कर देना चाहते हैं ट्रम्प

2030 तक अमेरिका से एड्स खत्म कर देना चाहते हैं ट्रम्प

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इसी पांच फरवरी को ऐलान किया है कि वो अपने देश से एचआईवी और एड्स को 2030 तक  मिटा देंगे.

हालांकि अभी इस बीमारी के लिए कोई प्रतिरोधी टीका न तो बन सका है और न ही उसके बहुत जल्दी आ जाने की सम्भावनाएं हैं पर अमेरिका जैसे देश में जहां दस लाख से ज्यादा लोग एड्स से पीड़ित हैं और हर साल कम से कम चालीस हजार लोग एचआईवी से संक्रमित हो जाते हैं ट्रम्प का यह ऐलान कुछ चौंकाने वाला जरुर है.

राष्ट्रपति के इस ऐलान के बाद अमेरिकी मीडिया में छप रही खबरों के मुताबिक ट्रम्प ने इसके लिए दस  सूत्रीय रणनीति बनाई है जिसका जल्दी ही ऐलान किया जाने  वाला है.

इस बारे में अमेरिकी संसद में न तो ट्रम्प ने बताया और न ही बाद में अमेरिका राष्ट्रीय प्रशासन ने कि इस लक्ष्य को दस साल में हासिल करने के लिए ट्रम्प प्रशासन कितना धन मुहैय्या कराने वाला है पर राष्ट्रपति ने यह इशारा जरुर किया कि इसके लिए सम लिंगियो, उन बस्तियों जहां एचआईवी के मरीज ज्यादा रहते हैं और उन 48 देशों पर खास नजर रखी जाएगी जहां से संक्रमण बटोरकर अमेरिकी  लौटते हैं.

वैसे अमेरिका में एक बड़ा तबका इसे ट्रम्प के समलिंगियों के खिलाफ नफरत के रूप में भी देख  रहा है जिन्होंने सत्ता सम्भालते ही व्हाइट हाउस को इन लोगों की समस्याओं पर सुझाव देने के लिए बनी सारी समितियां भंग कर दी थी.

अपने  इसी भाषण में ट्रम्प ने सभी से देश में उन गर्भ समापन पर रोक लगाने के लिए कानून बनाने की वकालत भी की जिस उम्र में गर्भ में बच्चे को पीड़ा का अनुभव  होना शुरु हो जाता है.

Spread the love

Leave a Comment