Share
शर्मनाकः प्रियंका गांधी के छूने से अशुद्ध हुई भगत सिंह की प्रतिमा का शुद्धीकरण

शर्मनाकः प्रियंका गांधी के छूने से अशुद्ध हुई भगत सिंह की प्रतिमा का शुद्धीकरण

सिख समुदाय के कुछ लोगों ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के माल्यार्पण करने से अशुद्ध हुई भगत सिंह की प्रतिमा का अमृतसर से मंगाए गए जल और दूध से स्नान कराकर शुद्धीकरण किया.

उल्लेखनीय है कि इसी सोमवार को प्रियंका ने भगत सिंह की मूर्ति पर माला चढ़ाई थी पर भगवा सोच वाले इन सिखों का मानना है कि 1984 के दंगो को लेकर हुआ तो हुआ का बयान देने वाली कांग्रेस नेता के छूने से मूर्ति अपवित्र हो गई.

ये वही  लोग हैं जो भगत सिंह जैसे क्रांतिकारी और नास्तिक को सिख समुदाय से जोड़कर उनका कद छोटा करने पर तुले हैं और इसी सोच की नतीजा है कि आजाद भारत में मोदी सरकार बनने के बाद छत्तीसगढ़ में भगत सिंह की हैट वाली प्रतिमा का दो बार सिर काटकर उसपर पीली पगड़ी पहने हुए सिर लगाने के लिए बाकायदा आंदोलन किया जाता है जबकि भगत सिंह की हैट पहने हुए फोटो श्याम लाल नाम के जिस फोटो ग्राफर ने 1929 में दिल्ली के कश्मीरी गेट पर खींची थी उसने बाकायदा लाहौर षणयन्त्र केस में इस मामले में अदालत में बयान भी दे रखा है जो आज भी रिकार्ड में दर्ज है.

इसके अलावा भगत सिंह की कुल तीन प्रमाणिक तस्वीरें उपलब्ध हैं जिसमें एक तब की है जब वो  11 साल  के थे और जो सफेद कपड़ो में उनके घर पर खींची गई थी जबकि दूसरी सफेद कुर्ते पायजामे में 16 साल की उम्र में नाटक ग्रुप में काम करते हुए और तीसरी तब की है जब वो 20-22 साल के थे और अपने घर मे खुले बालों में चारपाई पर बैठे हुए थे.

Spread the love

Leave a Comment