Share
बन गई प्रयोगशाला में असली किडनी..

बन गई प्रयोगशाला में असली किडनी..

जापान के नेशनल इंस्टीट्यूट आफ फिजियोलोजी ने स्टेम सेल की मदद से चूहे के भीतर एकदम सामान्य तरीके से काम करने वाली किडनी तैयार कर ली है और माना जा रहा है कि ये किडनी की कमी से बुरी तरह जूझ रही दुनिया को राहत दिलाने की दिशा में एक बड़ा कदम होगा.

इस समय पूरी दुनिया मेंं दसियों लाख लोग ऐसे हैं जिनकी किडनी बदलने की जरूरत है और अकेले अमेरिका में ही ऐसे मरीजों की संख्या 95 हजार से ज्यादा है जो किडनी पाने के लिए प्रतीक्षासूची में दर्ज हैं पर इनमें से ज्यादातर लोगों का अपनी बेकार हो चुकी किडनी के साथ ही मर जाना तय है क्योंकि बदलने के लिए इतनी बड़ी संख्या में ये जीवित अंग है ही नहीं.

अब जापानी वैज्ञानिकों के प्रयोग से ये उम्मीद तो बनती ही है कि शायद जल्दी ही असली किडनी की किल्लत समाप्त हो जाए क्योंकि वैज्ञानिकों ने ब्लास्टोसिस्ट कामप्लीमेन्टेशन से चूहे के भीतर ये किडनी बना ली है और उनका कहना है कि इसके लिए किसी जीव की स्टेम सेल का इस्तेमाल किया जा सकता है.

फिलहाल प्रयोग अभी जारी है और उम्मीद की जा सकती है नतीजे मानव के हित में ही आएगे.

Spread the love

Leave a Comment