Share
संरसंघ चालक हिटलर और मुसोलिनी से प्रभावितः मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़

संरसंघ चालक हिटलर और मुसोलिनी से प्रभावितः मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि मॉब लिंचिंग जैसे कई विषयों पर दशहरे के दिन सरसंघ चालक मोहन भागवत के विचार सुनकर साफ लगा कि उनका राष्ट्रवाद और विचारधारा कहीं न कहीं हिटलर और मुसोलिनी से प्रभावित जरुर है.

राजधानी रायपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बघेल ने कहा कि निश्चित रूप से कभी मौका मिला तो वो भागवत से आमने-सामने आकर भी पूछेंगे कि आखिर हिटलर और मुसोलिनी में ऐसा क्या है कि वो अपने महात्मा गांधी का नाम तो दिखावे के लिए लेते है पर काम काज में अपनाते हिटलर और मुसोलिनी के तौर तरीके हैं.

उनका कहना है कि भागवत का राष्ट्रवाद किसी हालत में गांधी का राष्ट्रवाद नहीं हो सकता क्योंकि गांधी न तो देश के किसी तबके को देश निकाला देने की सोच सकते थे और न ही देश की किसी सच्चाई से आंखे मूंदना उनकी फितरत थी, वो तो ऐसे नेता थे जो खुद को लेकर भी कभी झूठ नहीं बोलते थे.

उन्होंने कहा कि लेकिन नाथूराम गोडसे को पूजने वाले संघ के लोग  आज गांधी का नाम ले रहे जबकि राष्ट्रपिता की हत्या के लिए जिम्मेदार विचारधारा को पोषण देने वाले सावरकर भी उनके आराध्य हैं और ये बातें तो मैने विधानसभा के विशेष सत्र में पिछले हफ्ते ही कहीं हैं जो रिकार्डों में हैं.

Spread the love

Leave a Comment