Share
युवा जोश को प्रियंका गांधी का सलाम, की भीम आर्मी के नेता रावण से मुलाकात

युवा जोश को प्रियंका गांधी का सलाम, की भीम आर्मी के नेता रावण से मुलाकात

एक बड़ा राजनीतिक दांव चलते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने तमाम आरोपों से घिरी भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर रावण से खुद मेरठ अस्तपताल जाकर मुलाकात की और उनके भीतर की आग को कांग्रेस का सलाम पहुंचाया.

दरअसल भीम आर्मी जहां शुरू से भाजपा के निशाने पर है वही बसपा प्रमुख मायावती भी इसे दलितों के खिलाफ साजिश करने वालों का मंच बताते हुए खारिज करती रहती है और इसी लिहाज से कल मायावती द्वारा कांग्रेस से देश में कहीं भी तालमेल न करने के ऐलान के बाद इस मुलाकात के कुछ खास मायने भी निकाले जा सकते हैं.

भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर रावण को पुलिस ने आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप मेंं हिरासत में लिया था पर उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें मेरठ अस्पताल मेंं भर्ती कराया गया है जहां उनसे मिलने के लिए कांग्रेस के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ प्रियंका गांधी मेरठ अस्पताल पहुंची थीं.

इस मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने हालांकि कहा इसे चुनावों से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए और उन्हें इस युवा का जज्बा पसन्द है जो सरकारों के दमन के बाद भी लगातार संघर्ष कर रहा है, इसलिए वे उससे मिलने आई क्योकि वो युवाओं के संघर्षों की क्षमता का प्रतीक बन चुका है.

प्रियंका गांधी ने कहा कि ने इन्होंने जो संघर्ष किया वह काबिले तारीफ है और भाजपा सरकार इतनी अंहकारी बन गई है कि एक नौजवान को कुचलना चाहती है… उसने रोजगार तो दिया नहीं अब आवाज उठाने वालों को कुचलने का काम कर रही है.

लेकिन पूछने वालों ने प्रियंका से ये सवाल भी पूछ ही लिया कि क्या भीम आर्मी का कांग्रेस मेंं विलय तो नहीं हो रहा है या कांग्रेस रावण को बुलन्दशहर के नगीना से चुनाव तो नहीं लड़ाने जा रही पर प्रियंका ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है.

Spread the love

Leave a Comment