Share
मोदी की मजबूरी, अब तो प्रज्ञा ठाकुर को संसद मे गले लगाना ही पड़ेगा

मोदी की मजबूरी, अब तो प्रज्ञा ठाकुर को संसद मे गले लगाना ही पड़ेगा

भले ही बहुत दुखी होकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये सार्जनिक बयान दिया हो कि वो गोडसे का महिमा मंंडन करने और महात्मा गांधी  को अपमानित करने के लिए अपनी भोपाल से प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर को कभी माफ नहीं कर सकेंगे पर यह देखना दिलचस्प हो सकता है कि उन्हें प्रज्ञा को मोदी अब संसद में कैसे और किस रूप में गले लगाते है.

संसद में  प्रज्ञा को लेकर मोदी का रुख यह तो साफ करेगा ही कि उन्हें कभी माफ न करने का जो बयान उन्होंने दिया था वो कितनाा राजनीतिक था और कितना दिल  से क्योंकि उनकी उस नेकनीयती पर सवाल उठाने वालों के इस तर्क में भी दम है कि गांधी के हत्यारे गोडसे का महिमामंडन करने वालों की जमात हमेशा भाजपा से ही इसीलिए निकलती है क्योंकि संघ भी लम्बे समय से गांधी के मरने के बाद भी उनकी सामाजिक हत्या करने की साजिशों में सक्रिय रहा है.

इस चुनाव में भी भले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहली बार गांधी के हत्यारे को महिमामंडित करने वाली को सार्वजनिक  रूप से गलत करार देने की कोशिश की हो और भाजपा ने भी प्रज्ञा को कारण बताओ नोटिस जारी किया हो पर शायद इन सब पर बात भी करना अब भाजपा के लिए बेईमानी हो और मोदी भी जीत की खुशी मे अब क्यों याद रखेंगे कि उन्होंने प्रज्ञा को लेकर क्या बयान दिया था.

दुर्भाग्य है कि  इस चुनाव में महात्मा गांधी  को गाली देने में प्रज्ञा ठाकुर के सुर में सुर मिलाने वाले भाजपा के दूसरे चेहरे केंद्रीय मत्री अनन्त  कुमार हेगड़े और नलिन कटील भी चुनाव जीत रहे हैं और उनके बयानों को लेकर तो  भाजपा भी अब खामोश हो चुकी है.

उल्लेखनीय है प्रज्ञा ठाकुर के बयान की जब आलोचना हुई थी तो अनन्त कुमार ने  उसका समर्थन करते हुए कहा था कि  अब समय माफी मांगने का नहीं बल्कि मजबूती से उसके( गोडसे के) पक्ष में खड़े रहने का है तो नलिन ने गोडसे  राजीव गांधी से छोटा अपराधी बताते हुए कहा था कि गोडसे ने एक को मारा कसाब ने 72 को और राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा.

अब यह देखना  बेहद दिलचस्प होगा की गांधी के हत्यारे  को देश भक्त मानने वाली प्रज्ञा ठाकुर की संसद  में मौजूदगी को भाजपा अपनी अति हिन्दुत्व की  राजनीति और राष्ट्रीय सिटिजन रजिस्टर पर अमल के समय प्रखर हिन्दुत्व  के चेहरे के तौर पर किस तरह इस्तेमाल  करती है और इसका असर कैसा और कितना होता है.

Spread the love

Leave a Comment