Share
पाकिस्तान को राहुल गांधी ही नहीं खट्टर और यूपी-विधायक का भी सहारा

पाकिस्तान को राहुल गांधी ही नहीं खट्टर और यूपी-विधायक का भी सहारा

भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 35 ए निरस्त करने, धारा 370 शिथिल करने तथा कश्मीर के विभाजन के खिलाफ पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र को जो पत्र लिखा है उसमें न सिर्फ कांग्रेस नेता राहुल गांधी का नाम है बल्कि उसमें हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और यूपी के मुजफ्फरनगर से विधायक विक्रम सैनी के बयानों का भी उल्लेख है.

पाकिस्तान द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर मुद्दे को हवा देने के लिए जहां कांग्रेस नेेता राहुल गांधी के इस बयान का जिक्र है कि सरकार की नीतियों से जम्मू-कश्मीर में लोग मर रहे तो उसमें हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के उस बयान का भी हवाला दिया है जिसमें उन्होंने कश्मीर लड़कियों की मदद से राज्य का लिंगानुपात सुधारने की बात कही थी.

दरअसल खट्टर  ने 10 अगस्त 2019 को  फतेहाबाद में  भागीरथ जयंती समारोह के मौके पर कहा था कि ‘पहले ओपी धनकड़ कहते थे कि हम बिहार की लड़कियों को हरियाणा में शादी के लिए लाएंगे … और अब लोग कह रहे हैं कि कश्मीर से भी लड़कियां शादी के लिए मिलेंगी जिनसे हरियाणा के कुआंरों का कल्याण हो जाएगा.

वहीं उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने एक सभा में कहा कि देश के मुसलमानों को धारा 370 खत्म करने से खुश होना चाहिए क्योंकि अब वो कश्मीर की गोरी लड़कियों से शादी कर सकते है.

पाकिस्तान के मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजारी ने टि्वटर पर आठ पेज का वह पत्र  शेयर किया है जो संयुक्त राष्ट्र में भेजा गया है.

Spread the love

Leave a Comment