अब भी ऐसे नाई हैं जो दलितों के बाल नहीं काटते..

आजादी के इतने साल बाद और तमाम सामाजिक आंदोलनों के बावजूद देश में अभी भी ऐसे नाई हैं जो छुआछूत इस हद तक मानते हैं कि दलितों के बाल नहीं काटते।

ऐसी ही घटना हाल ही में तमिलनाडु  में सामने आई जब एक सैलून में एक व्यक्ति के बाल सिर्फ इसलिए नहीं काटे गए क्योंकि वो दलित था।

इत्तेफाक से इस सलून के मालिक और नाई का इंकार वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गया जिसके आधार पर पुलिस ने मालिक और दो अन्य के खिलाफ़ मामला दर्ज कर लिया है। 

सलेम जिले के थलाइवासल में, 26 वर्षाय पूवरसन बाल कटवाने के लिए सैलून गया था पर  सैलून के मालिक और नाई ने उसके बाल काटने के साथ ही और उसे सैलून में आने से भी रोक दिया

सीसीटीवी में सैलून के मालिक अन्नाकिल्ली और नाई लोगनाथन को पूवरसन से कहते हुए सुने जा सकते हैं कि वे उसके बाल नहीं काटेंगे क्योंकि वो दलित है।

प्रारंभिक जांच के बाद पुलिस ने अन्नाकिल्ली, लोगनाथन और पलानीवेल के खिलाफ़ एससी/एसटी एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।  

Subscribe to our Newsletter