दशहरे पर देश भर में मोदी का पुतला फूकेंगे किसान, बड़े आंदोलनो की घोषणा

लखीमपुर हिंसा में मारे गए किसानों को इंसाफ दिलाने के लिए आज जमा हुए पचास हजार से ज्यादा किसानों ने तय किया कि उत्तर प्रदेश के हर जिले में और देश के हर राज्य में किसानों की अस्थि कलश यात्राएं निकाली जाएंगी और 15 अक्टूबर को दशहरे के दिन पूरे देश पीएम मोदी का पुतला फूंका जाएगा।

लखीमपुर के  तिकुनिया में घटनास्थल से करीब एक किमी की दूरी पर 30 एकड़ भूमि पर हुई अंतिम अरदास के बाद तय किया गया कि 24 अक्टूबर को देश की सभी प्रमुख नदियों में मृतक किसानों की अस्थियों का विसर्जन होगा।

आज के कार्यक्रम में यूपी के अलावा पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से करीब 50 हजार किसानो ने भाग लिया।किसानों नेताओं ने ऐलान किया है कि अस्थि विसर्जन के दिन सुबह बजे से 4 बजे तक चक्का जाम किया जायेगा और 18 अक्टूबर में ट्रेनें रोकी जाएंगी।   

घटनास्थल पर 5 किसानों की शहीदी स्मारक भी बनाया जाएगा।

राकेश टिकैत का कहना है कि  अपराधी बाप बेटे के जेल जाने तक आंदोलन चलता रहेगा और अब 26 को लखनऊ में महापंचायत  भी होगी।

किसी भी नेता को किसानों ने मंच पर नहीं जाने दिया और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी भी मंच से दूर ही बैठी।

रालोद नेता जयंत चौधरी को  भी मंच पर जगह नहीं मिली। 


Subscribe to our Newsletter