Share
मौत का खौफ खत्म करता है कोरिया में जिन्दा लोगों के दफन का उत्सव

मौत का खौफ खत्म करता है कोरिया में जिन्दा लोगों के दफन का उत्सव

दक्षिण कोरिया में हर साल एक संस्था जिन्दा लोगों में मौत का खौफ खत्म करने के लिए उन्हे फर्जी तौर पर दफनाने का बाकायदा उत्सव मनाती है और वो भी बिल्कुल मुफ्त में ताकि मौत को करीब से महसूस करके लोग बेहतर इंसान  बन सके.

ह्यूवान हीलिंग सेंटर अपनी 2012 में स्थापना से अब तक कोई 25 हजार लोगों को इस तरह दस मिनट के लिए काल्पनिक मौत का अनुभव दिला चुका है और इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले दावा करते हैं कि इस अनुभव से गुजरने के बाद जिन्दगी के प्रति उनका नजरिया ही बदल जाता है.

इस अनुभव से गुजरने वालो का दावा है कि एक बार दस मिनट के लिए ही सही कॉफिन में लेटने के बाद बेमतलब की प्रतिस्पर्धा, झगड़े और शिकायतें जैसे दिमाग से गायब हो जाते हैं और एक कहीं ज्यादा सार्थक जिन्दगी के दर्शन हो जाते हैं.

इस उत्सव में लोगों को एक हालनुमा शवगृह में एकत्रित किया जाता है और सब अपने अपने कॉफिन के बगल में बैठकर कल्पना करते हैं कि उनका अंंतिम समय  आ चुका है और वो जिन्दगी के बारे में अपने अनुभव और अपने करीबियों के लिए संदेश को लिपिबद्ध करतें हैं और फिर दुनिया से विदा होने की कल्पना में कम से कम दस मिनट के लिए कॉफिन में लेट जाते हैं.

 

Spread the love

Leave a Comment