Share

वायरल आडियो बताता है सबरीमाला विवाद भाजपा की साजिश

पता नहीं सच है या गलत पर सोशल मीडिया में केरल के भाजपा अध्यक्ष का एक आडियो टेप वायरल हो रहा है जिसे सुनने के बाद यही लगता है कि सबरी माला मंदिर का मौजूदा विवाद भाजपा की एक सोची-समझी रणनीति का हिस्सा है.

 

केरल के भाजपा अध्यक्ष पीएस श्रीधरन पिल्लई इस टेप में कहते सुने जाते हैं कि सबरीमाला विवाद भाजपा के लिए “सुनहरा मौका” है.

यह ऑडियो क्लिप पिछले दिनों कोझीकोड में आयोजित भाजपा युवा मोर्चा के कार्यक्रम का है जिसमें केरल भाजपा अध्यक्ष को यह कहते  सुना जा सकता है कि सबरी माला मंदिर के पुजारी को 10-50 साल  की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश की स्थिति में मंदिर का दरवाजा बंद करने का सुझाव उन्होंने दिया था.

हालांकि मंदिर का मुख्य पुजारी डर रहा था कि इससे सुप्रीम कोर्ट की अवमानना होगी पर उन्होंने उसे आश्वस्त किया कि अवमानना होगी तो अकेले तुम्हारी नहीं होगी और तुमसे पहले तो हमारी होगी और इससे वह संतुष्ट हो गया.

वो ये भी कहते हैं कि सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश का विरोध हमारा  एजेंडा था और  पार्टी के महासचिवों ने इसके लिए बहुत मेहनत की और जब आईजी श्रीजिथ दो महिलाओं को सबरीमाला के भीतर ले जाने के लिए बढ़ रहे थे तब  युवा मोर्चे के कार्यकर्ताओं ने उन्हें रोक कर कमाल कर दिया.”

 

वे कहते हैं यह हमारा मजबूत फैसला था और उसने पुलिस और प्रशासन को कहीं का नहीं छोड़ा.

फैसला किया। उस निर्णय ने वास्तव में पुलिस को कहीं का नहीं छोड़ा था और प्रशासन परेशान था। हमें आशा है कि वह इसे फिर से दोहराएंगे। बाद में, पहले मैं आरोपी बना और वह अदालत की अवमानना का दूसरा आरोपी बना। इसके बाद उनका आत्मविश्वास बढ़ गया।”

ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद, पिल्लई ने सफाई देते हए कहा कि वह एक राजनीतिक नेता और कानूनी सलाहकार के रूप में पुजारी को कानूनी राय दे रहे थे वहीं   केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा, “भाजपा की घटिया  राजनीति का पर्दाफाश हो गया है.

Spread the love

Leave a Comment