Share
इमरान खान ने फिर की बातचीत की पेशकश

इमरान खान ने फिर की बातचीत की पेशकश

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सीमा पर बढ़े जबरदस्त तनाव के बीच एक बार फिर बातचीत की पेशकश करते हुए कहा है कि हम पुलवामा का दर्द समझते हैं इसलिए एक बार फिर आगाह कर रहे हैं कि जंग किसी मसले का हल नहीं और हम दहशतगर्दी पर सख्त कार्रवाई करने को तैयार हैं.

उन्होंने कहा है कि दहशतगर्दी से हमने अपने सत्तर हजार लोगों को खोया है इसलिए हम समझते हैं कि पुलवामा में जो लोग मरे हैं या घायल हुए हैं उनका दर्द कितना है.

उनका कहना है कि दहशतगर्दी पर उनकी राय भारत से अलग नहीं है, इसलिए वो फिर वादा करते हैं कि अगर बातचीत होती है या सुबूत दिए जाते हैं तो सख्त कार्रवाई से वो पीछे नहीं हटेंगे लेकिन अगर हम जंग के रास्ते पर बढ़े तो चीजें न मेरे नियंत्रण में रहेंगी न मोदी जी आपके

उधर पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसके कब्जे में भारत के जो दो पायलेट हैं उनमें से एक का नाम विंग कमांडर अभी नंनद है जबकि दूसरे का अभी इलाज चल रहा है.

उधर भारत की आतंकी शिविरों पर कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर कम से कम 15 जगहों पर गोलाबारी की जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई जिसमें गृह मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, रॉ के प्रमुख, गृह सचिव और अन्य प्रमुख अधिकारी शामिल हुए.

यह बैठक करीब 20 मिनट तक यह बैठक चली और इसमें आगे की रणनीति तय की गई.

Spread the love

Leave a Comment