Share
चुनावों में फेसबुक की सुपर  कमाई, विज्ञापनों में गूगल को भी पछाड़ा

चुनावों में फेसबुक की सुपर कमाई, विज्ञापनों में गूगल को भी पछाड़ा

मौजूदा चुनावों में गूगल को भी पछाड़ते हुए फेसबुक जहां सबसे सशक्त विज्ञापनों के प्लेटफार्म के रूप में उभरा है वहीं विज्ञापन देने में भाजपा का कोई सानी नहीं है और बाकी सभी दल तो उससे कोसो दूर हैं.

गूगल ने चार अप्रैल को अपने विज्ञापनों का जो ब्योरा रिलीज किया है उसके अनुसार 19 फरवरी से पांच अप्रैल तक उसे 830 राजनीतिक विज्ञापनों से कुल 3.76 करोड़ की कमाई हुई जबकि फेसबुक ने पिछले दो महीनों में कुल 51 हजार राजनैतिक विज्ञापनों से दस करोड़ से ज्यादा की कमाई की.

देश में मौजूद सोशल मीडिया प्लेटफार्मों में व्हाट्सऐप विज्ञापन नहीं लेता जबकि ट्विटर लोगों के बीच खासा लोकप्रिय होने के बाद भी इस लिहाज से बहुत पीछे छूट गया है.

फेसबुक पर विज्ञापन देने में भाजपा का कोई सानी ही नहीं है और सिर्फ मार्च महीने में ही उसने जहां फेसबुक पर डेढ़ करोड़ के विज्ञापन दिए हैं तो गूगल पर भी एक करोड़ की रकम खर्च की है जबकि उसकी मुख्य प्रतिद्वन्दी कांग्रेस ने फेसबुक पर साढ़े पांच लाख और गूगल पर कुल पचास हजार की रकम खर्च की है.

सच्चाई तो यह है कि उड़ीसा की बीजू जनता दल भी सोशल मीडिया में विज्ञापन देने में कांग्रेस से कहीं आगे है और इस लिहाज से कांग्रेस को तीसरे स्थान पर ढकेल रहा ये दल मार्च महीने आठ लाख से ज्यादा विज्ञापन दे चुका है.

Spread the love

Leave a Comment