Share
कश्मीर पर ताल ठोंकने वाला पाकिस्तान हुआ दिवालिया

कश्मीर पर ताल ठोंकने वाला पाकिस्तान हुआ दिवालिया

एक तरफ कश्मीर पर भारत के खिलाफ ताल ठोंकने का जुनून और दूसरी तरफ इतने पैसे भी नही कि देश के सबसे बड़े दफ्तर यानि प्रधानमंत्री सचिवालय की भी बिजली का बिल भरा जा सके, यह है आज के पाकिस्तान की सबसे कड़वी सच्चाई.

खबरों की मानें तो पाकिस्तान के पास अपने प्रधानमंत्री सचिवालय की बिजली का बिल भरने के भी पैसे नहीं हैं और ऐसी हालत में वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान को अगले महीने से खुद अपने दफ्तर में अंधेरे में बैठकर भारत से मुकाबले की खयाली किलेबंदी की रूपरेखा बनानी होगी.

पाकिस्तान के अखबार एक्सप्रेस न्यूज के मुताबिक पीएम सचिवालय  पर  41 लाख 13 हजार 992 रुपये का बिजली का  बिल बकाया है जिसमें पिछले महीने का  35 लाख से ज्यादा का बिल शामिल है जिसे चुकाने के लिए इमरान सरकार के पास रकम नही है.

फिलहाल इस्लामाबाद इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी ने बिजली का बिल न चुकाने  पर इमरान खान के सचिवालय की बिजली काट देने का अंतिम नोटिस दे दिया है.

भले ही पाकिस्तान की मौजूदा सरकार किसी तरह बिल का भुगतान करके सरकार को अंधेरे में जाने से बचा ले पर यह खबर इस बात की अंदाजा लगाने के लिए काफी है कि अपना यह पड़ोसी आर्थिक दिवालियेपन तक जा पहुंचा है.

बहरहाल इस तंगहाली के बाद भी इमरान खान ने  अपने देश के सभी नागरिकों से हर जुमे की नमाज के बाद आधा घंटा कश्मीर के लिए खड़े होकर विरोध दर्ज करने की अपील की है ताकि दुनिया को पता चले की भारत ने कश्मीर और कश्मीरियों के साथ ज्यादती की है.

देश के नाम सम्बोधन मेें की गई  इस अपील के बाद पहला जुमा यानि शुक्रवार कल पड़ रहा है और पाकिस्तानी मीडिया की खबरों के मुताबिक खुद प्रधानमंत्री समेत सभी राज्यों के मुख्यमंत्री अवाम के इस प्रदर्शन का नेेतृत्व करेगे.

मीडिया रिपोर्टो के अनुसार इस प्रदर्शन में कश्मीर बनेगा पाकिस्तान और वो कश्मीर हमारा है जैसे नारे भी पाकिस्तानी अवाम द्वारा लगाए जाएंगे.

Spread the love

Leave a Comment