Share
थम गया 91 सीटों पर चुनाव का शोर, नेताओं पर भारी अगले चौबीस घंटे

थम गया 91 सीटों पर चुनाव का शोर, नेताओं पर भारी अगले चौबीस घंटे

लोकसभा चुनावों के पहले चरण की 91 सीटों के लिए बीस राज्यों में आज यानि मंगलवार शाम से प्रचार का शोर थम गया ताकि खामोशी से जनता तय कर सके कि उसे किसे और क्यों वोट देना है.

इस चरण में जिन बड़े नेताओ की किस्मत ईवीएम के हवाले हो जाएगी उनमें राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजित सिंह सहित वी. के. सिंह, महेश शर्मा, हरीश रावत और नितिन गडकरी जैसे केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं.

प्रथम चरण में आंध्र प्रदेश की सभी 25 लोकसभा सीटों, तेलंगाना की 17 सीटों, उत्तर प्रदेश की आठ सीट, महाराष्ट्र की सात सीट, उत्तराखंड और असम की पांच-पांच सीटों, बिहार की चार सीट, जम्मू-कश्मीर, मणिपुर और मेघालय की दो -दो सीटों, नगालैंड,मिजोरम और छत्तीसगढ़ की एक-एक सीट,और पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर वोटिंग होनी है.

सबसे ज्यादा लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश की जिन संसदीय सीटों पर इस चरण में वोट पड़ने हैं उनमें गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, कैराना और बिजनौर शामिल है .

प्रथम चरण की 91 सीटों पर कुल 1279 प्रत्याशी मैदान में हैं जिनमें 559 निर्दलीय हैं और 213 आपराधिक मुकदमों में फंसे हैं जिनमें से 146 पर गंभीर आपराधिक मुकदमें हैं.

प्रथम चरण के एक तिहाई उम्मीदवार करोड़पति है जबकि महिलाओं की संख्या इसमें कुल 89 है.

Spread the love

Leave a Comment