Share
गोडसे को देशभक्त बताने वाली प्रज्ञा ठाकुर को क्लीन चिट देगी भाजपा

गोडसे को देशभक्त बताने वाली प्रज्ञा ठाकुर को क्लीन चिट देगी भाजपा

संकेत साफ है कि भले ही पीएम मोदी ने कहा हो कि वो महात्मा गांधी का अपमान और उनके हत्यारे गोडसे को महिमामंडित करने के लिए प्रज्ञा ठाकुर को कभी दिल से माफ नहीं करेंंगे पर उनकी ही पार्टी अब उसी प्रज्ञा ठाकुर को इस मामले में क्लीन चिट देने की तैयारी कर चुकी है.

भाजपा से छन कर आ रही खबरों में पार्टी का मानना है कि अब चुनाव  निपट चुका है और प्रज्ञा ठाकुर  पार्टी की सांसद हैं साथ ही पार्टी ने उन्हें जो नोटिस जारी किया था उसका जवाब वे दे चुकी हैं , ऐसे में इस पूरे मामले को अब ठंडे बस्ते में डाल देना ही बेहतर होगा.

वैसे भी पार्टी को बंगाल में प्रखर हिन्दुत्व के चेहरे के तौर पर उनकी जरूरत होगी ऐसे मेंं इस मामले पर खामोशी अख्तियार करने की रणनीति तय की जा चुकी है.

वैसे कहा तो यह भी जा रहा है कि अपने बयान  पर माफी मांगकर प्रज्ञा ने खुद मान लिया था कि उनसे गलती हुई और पश्चाताप के तौर पर उन्होंने 21 प्रहर का उपवास भी रखा था जिसके बाद अब कुछ करने को बचा  नही हैं.

उधर प्रज्ञा ठाकुर के सामने बड़ी परेशानी अगले हफ्ते अदालत की कार्रवाई को लेकर आने वाली है जहां उन्हें वकीलों के सवालो का जवाब देना होगा क्योकि अब क्रास इक्जामिनेशन का समय आ गया है.

प्रज्ञा आज मालेगांव बम धमाके के मामले में मुम्बई की एनआईए कोर्ट में पेश हुई और जज के ज्यादातर सवालों के जवाब मेंं उन्होंने मुझे मालूम नही कहा पर अदालत में उनके बैठने की उचित व्यवस्था न होने को लेकर वे अदालत के उठने के बाद जरूर बिफर पड़ीं.

उन्होंने अपने वकील  से कहा कि इन्हें मेरी हालत तो पता है फिर मेरे बैठने की व्यवस्था तो कम से कम करनी ही चाहिए थी.

हालांकि कार्रवाई के दौरान जज ने अदालत में उनके बैठने के लिए कुर्सी डलवाई पर उस पर बैठने की बजाए उन्होंने खड़े रहना ही ठीक समझा.

Spread the love

Leave a Comment