Share

बिहार के डीजीपी और मुख्य सचिव सुप्रीम कोर्ट में तलब

मुजफ्फरनगर बालिका संरक्षण गृह बलात्कार कांड में  बिहार की पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा की अब तक  गिरफ्तारी न होने से नाराज सुप्रीम कोर्ट ने अब राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को ही अदालत में तलब कर लिया है.

राज्य प्रशासन की लापरवाहियों पर कड़ा रुख अपनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राज्य की पुलिस अगर मंजू वर्मा को अब भी गिरफ्तार नहीं करती तो पुलिस महानिदेशक खुद 27 नवम्बर  को कोर्ट में हाजिर होकर इस बारे में सफाई देंगे.

साथ ही शीर्ष अदालत ने राज्य के मुख्य सचिव को भी अगली सुनवाई में कोर्ट में हाजिर होकर इस बारे में सफाई देने को कहा है कि इस कांड में इतनी लापरवाहियां क्यों बरती जा रही हैं.

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पति ने हालांकि अदालत में समर्पण कर दिया है पर सीबीआई छापे के दौरान उनके घर से हथियार बरामद होने के बाद भी मंत्री की गिरफ्तारी न होने पर नाराज जस्टिस लोकुर ने कहा कि यह समझ से परे है कि पूरे राज्य की पुलिस अपने एक मंत्री को ही नहीं ढूंढ पा रही.

उल्लेखनीय है कि बिहार में नाबालिग बच्चियों से बलात्कार के साथ ही कुछ की  हत्या की खबरों से पूरा देश हिल गया था.

Spread the love

Leave a Comment