Share
मोदी राज में बैंकों ने जितना कर्जा वसूला उसका सात गुना डुबोया

मोदी राज में बैंकों ने जितना कर्जा वसूला उसका सात गुना डुबोया

मोदी राज यानि 2014 से अब तक के कामकाज में देश के सरकारी बैंको ने जितना कर्जा वसूला उसका सात गुना डुबो दिया और बैंको का न तो बैड लोन पर कोई अंकुश रहा और न अपनी आर्थिक हालत सुधार पाने पर.

यह खुलासा भी वित्त पर  संसद की स्थाई समिति के सामने रिजर्व बैंक द्वारा पेश आंकड़ो में ही किया गया है.

रिजर्व बैंक के आंकड़े बताते हैं कि  2014 की अप्रैल से 2018 की अप्रैल तक यानि मोदी सरकार के चार साल के कामकाज में देश के 21 सरकारी बैंकों ने कुल 3,16,500 करोड़ रुपए का लोन बट्टे खाते में डाल दिया जबकि वसूली सिर्फ 44900 करोड़ रुपयों की गई.

आंकड़ों के अनुसार साल 2014 तक बैड लोन में कोई खास वृद्धि नहीं हुई लेकिन उसके बाद तो बढ़ोत्तरी के सारे रिकार्ड ध्वस्त हो गए.

Spread the love

Leave a Comment