Share
अमेरिकी आंकलन, भारत में चुनाव पूर्व हो सकते हैं दंगे

अमेरिकी आंकलन, भारत में चुनाव पूर्व हो सकते हैं दंगे

अमेरिकी संसद की सेलेक्ट कमेटी को सौंपी गई एक खुफिया रिपोर्ट में आंकलन किया गया है कि भारत में सत्तारूढ़ भाजपा अगर अपने हिन्दुत्व के एजेंडे पर इसी तरह अमल करती रही तो चुनाव से पहले भारत में साम्प्रदायिक दंगे हो सकते हैं.

अमेरिका के डायरेक्टर ऑफ नेशनल इंटेलिजेंस डैन कोट्स  द्वारा तैयार की गई इस रिपोर्ट में कहा गया है कि  “अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भारतीय जनता पार्टी हिंदू राष्ट्रवादी मुद्दों पर  इसी तरह आगे बढ़ती रही तो उस देश में लोकसभा चुनाव से पहले सांप्रदायिक हिंसा  के खतरे बहुत बढ़ जाएंगे.”

 

दरअसल,  अमेरिका दुनिया भर में इसी तरह की  रिपोर्ट तैयार कर दुनिया के अलग अलग हिस्सों में होने जा रही घटनाओं की जानकारी जुटाता है.

इस रिपोर्ट को तैयार करने में अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए की डायरेक्टर जीना हास्पेल, एफबीआई डायरेक्टर क्रिस्टोफर रे और डीआईए के डायरेक्टर रॉबर्ट एश्ले भी शामिल हैं।

इस रिपोर्ट में दावा किया है कि चुनाव से पहले भारत और पाकिस्तान के संबंध भी तनावपूर्ण हो सकते हैं.

कोट्स ने  अपने यहां की  संसद की प्रवर समिति को यह भी बताया है कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी समूह भारत और अफगानिस्तान तथा अमेरिकी हितों के खिलाफ हमलों की अंजाम देने में पाकिस्तान के  अपने ठिकानों का इस्तेमाल करना  जारी रखेंगे.”

कोट्स ने अमेरिकी सांसदों को बताया कि भारत में सांप्रदायिक हिंसा की आशंका प्रबल है  और भारत एवं चीन के बीच भी इस साल रिश्ते तनावपूर्ण रहने के आसार हैं.

Spread the love

Leave a Comment