Share
रामदेव का नया बयान, 23 मई को हर साल मनाया जाए मोदी दिवस

रामदेव का नया बयान, 23 मई को हर साल मनाया जाए मोदी दिवस

चुनाव के पहले कांग्रेस से रिश्ते अच्छे करने में जुटे योग गुरु बाबा रामदेव अब फिर से न सिर्फ भाजपा के महिमामंडन में जुट गए हैं बल्कि अब तो उन्होंने यह मांग भी कर  दी है कि 23 मई के जिस दिन मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा ने इतिहास रचा है उसे हर साल मोदी दिवस के रूप में मनाया जाए.

इससे पहले उन्होंने तीसरे बच्चे के जन्म पर वोट का अधिकार छीन लेने का सुझाव नई सरकार को दिया था जिसकी काफी आलोचना हुई थी क्योंकि वे ये बताने में असमर्थ रहे कि संविधान जब सभी को वोट का अधिकार देता है तो बिना किसी आपात स्थिति के किसी को भी इस अधिकार  से वंचित किस कानून के तहत किया जा सकता है.

 

Spread the love

Leave a Comment