Share
2019 की तैयारीः बसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का रिश्तेदार न चुनाव लड़ेगा न पदाधिकारी होगा

2019 की तैयारीः बसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का रिश्तेदार न चुनाव लड़ेगा न पदाधिकारी होगा

बसपा सुप्रीमो मायावती ने 2019 के चुनाव को देखते हुए पार्टी संगठन और पार्टी संविधान में कई महत्वपूर्ण बदलाव किए जिनके तहत अब  बसपा के किसी भी अध्यक्ष का सीधा रिश्तेदार कभी चुनाव नहीं लड़  सकेगा.

इसके साथ ही बसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का रिश्तेदार पार्टी में कोई महत्वपूर्ण पद भी हासिल नहीं कर सकेगा और इसी के तहत मायावती ने अपने भाई आनन्द को भी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से हटा दिया है.

उल्लेखनीय है कि अपने भाई को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाने को लेकर मायावती पर परिवार वाद को प्रश्रय देने के आरोप लगाए जा रहे थे।

वहीं पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में बीएसपी ने  यूपी में पार्टी के सांसद रहे राम अचल राजभर को  महासचिव नियुक्त किया  है और राज्यसभा सांसद वीर सिंह और दिल्ली के जयप्रकाश सिंह को राष्ट्रीय समन्वयक बनाया है.

इसके साथ ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी आर एस कुशवाहा पर डाली गई है.

Spread the love

Leave a Comment