Share
मोदी सरकार में पेट्रोल-डीजल मनमोहन सरकार से भी मंहगा, टूटे सारे रिकार्ड

मोदी सरकार में पेट्रोल-डीजल मनमोहन सरकार से भी मंहगा, टूटे सारे रिकार्ड

पेट्रोल-डीजल की कीमतो में बढोत्तरी को लेकर मोदी सरकार ने पिछली मनमोहन सरकार के भी सारे रिकार्ड तोड़ दिए हैं और सरकार अभी भी इस बात पर आमादा है कि इनकी कीमतों में कमी करने के लिए फिलहाल एक्साइज टैक्स में कोई कमी नहीं करेगी.

पिछली मनमोहन सरकार में पेट्रोल की सबसे ज्यादा कीमत  76 रुपये 6 पैसा थी पर यह  रिकॉर्ड आज मोदी सरकार ने पेट्रोल की कीमत राजधानी दिल्ली में 76 रुपए 24 पैसे की कीमत तय करके तोड़ दिया है.

डीजल के मामले में रिकार्ड तोड़ देने का काम तो मोदी सरकार पहले ही कर चुकी है और इस समय दिल्ली में डीजल 67 रुपया 57 पैसे प्रति लीटर बिक रहा है और इतनी ज्यादा कीमत पर यह पहली बार बिक रहा है.

दिल्ली में पेट्रोल सबसे अधिक महंगा 14 सितंबर 2013 को  बिका था और तब पेट्रोल की कीमत 76 रुपये छह पैसे थी.

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की कीमत 84.7 रुपये प्रति लीटर, भोपाल में 81.83 रुपये प्रति लीटर, पटना में 81.73 रुपये प्रति लीटर, हैदराबाद में 80.76 रुपये प्रति लीटर, श्रीनगर में 80.35 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में 78.91 रुपये प्रति लीटर, चेन्नई में 79.13 रुपये प्रति लीटर, पणजी 70.26 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच चुकी है.

इसी तरह  डीजल की कीमत हैदराबाद में  73 रुपये 45 पैसे,  रायपुर में 72 रुपये 96 पैसे, गांधीनगर में 72 रुपये 63 पैसे, भुवनेश्वर में 72 रुपये 43 पैसे, पटना में 72 रुपये 24 पैसे, जयपुर में 71 रुपये 97 पैसे, रांची में 71 रुपये 35 पैसे, भोपाल में 71 रुपये 12 पैसे, मुंबई में 71 रुपये 94 पैसे, कोलकाता में 70 रुपये 12 पैसे, चेन्नई में 71 रुपये 32 पैसे और श्रीनगर में 70 रुपये 96 पैसे प्रति लीटर है.

Spread the love

Leave a Comment