Share
मिल गया भविष्य का सुपर फूड और यह है काकरोच मिल्क की टैबलेट

मिल गया भविष्य का सुपर फूड और यह है काकरोच मिल्क की टैबलेट

आखिरकार वैज्ञानिकों ने भविष्य का सुपर फूड ढूंड निकाला है और यह काकरोचों की कुछ प्रजातियों द्वारा अपने भावी बच्चों के लिए बनाया गया क्रिस्टल दूध के कण जिसमें किसी गाय के दूध से चार गुना और भैंस के दूध से तीन गुना प्रोटीन होती है.

लेकिन इतनी फायदेमंद होने के बाद भी गाय-भैंस की तरह इस कोकरोच मिल्क को पाना और  इस्तेमाल करना आसान नहीं है क्योंकि इसे कोई भी दूध की तरह पी नहीं सकता, हां, इसकी टैबलेट जरूर बनाई जा सकती है और एक व्यक्ति के लिए एक दिन सिर्फ  एक टैबलेट लेना काफी है पर सौ ग्राम की एक टैबलेट बनाने के लिए एक हजार काकरोचों को मारना पड़ता है.

दरअसल सबसे पहले अमेरिका  की लोवा स्टेट यूनिवर्सिटी के रिसर्च स्कालर ने यह पता किया कि शिशु काकरोच के पेट में उसका भोजन का प्रोटीन एक क्रिस्टल के रूप में बदल जाता है जो लिए गए भोजन से कहीं ज्यादा बेहतर होता है और बाद में भारत में बंगलुरु स्थित स्टेम सेल बायलोजी और  रिजेनरेटिव मेडिसिन ने इस पर और विस्तृत काम  किया.

भारत के इस संस्थान ने बाद में दुनिया भर के वैज्ञानिकों की मदद से यह तय किया कि ये क्रिस्टल दूध में तब्दील किये जा सकते हैं  और इनकी फूड वैल्यू हमारे पास उपलब्ध किसी भी दूध  से बहुत ज्यादा है.

Spread the love

Leave a Comment