Share
दागदार  को प्रोटेम-स्पीकर बना सदन जीतने की भाजपाई रणनीति, कांग्रेस फिर पहुंची सुप्रीम कोर्ट

दागदार को प्रोटेम-स्पीकर बना सदन जीतने की भाजपाई रणनीति, कांग्रेस फिर पहुंची सुप्रीम कोर्ट

भाजपा  के पक्ष में बेईमानी करने के लिए पहले ही फटकारे जा चुके केजी बोपैया  को प्रोटेम स्पीकर बनाकर भाजपा के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा कल शनिवार को सदन जीतना चाहते हैं पर उनकी इस कोशिश  से बिफ्री कांग्रेस एक बार फिर  सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है.

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने बिना समय दिए येदियुरप्पा को शनिवार यानि 24 घंटों के भीतर ही बहुमत साबित करने के न सिर्फ निर्देश दिए हैं बल्कि भाजपा की बहुमत परीक्षण के दौरान गुप्त मतदान कराने की मांग भी खारिज कर दी है.

इन चुनौतियों भरे माहौल में भाजपा ने अपने विश्वासपात्र बोपैय्या को बहुमत के परीक्षण के लिए न सिर्फ कार्यकारी स्पीकर तैनात किया बल्कि राज्यपाल वजुभाई वाला ने भी बिना समय गंवाए उन्हें विधानसभा अध्यक्ष पद की शपथ भी दिला दी.

यानि यही बोपैय्या पहले सभी विधायकों को सदन की सदस्यता की शपथ  दिलाएंगे फिर यह फैसला भी सुनाएंगे कि नए मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के पास सदन  में बहुमत है या नहीं.

उल्लेखनीय है कि ये  वही भाजपा नेता है  जिन्हे 2010 में भी येदियुरप्पा की जीत तय करने के लिए एक मुश्त 16 विधायकों को सदन की  सदस्यता से गलत  तरीके से  अयोग्य घोषित करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार  लगाई थी.

Spread the love

Leave a Comment