Share
चीन में बढ़ता जा रहा है डेटिंग स्कूल का चलन

चीन में बढ़ता जा रहा है डेटिंग स्कूल का चलन

दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाले देश चीन में डेटिंग स्कूलों को चलन तेजी से बढ़ता जा रहा है जहां तीन दिन से एक सप्ताह तक के कोर्स में यह सिखाया जाता  है कि कैसे कोई युवक किसी लड़की से बातचीत की शुरुआत  करे और कैसे उसका सोशल मीडिया टेलीफोन नम्बर मांगकर रोमांस को परवान चढ़ाए.

दररअसल जनसंख्या विस्फोट से जूझ रहे चीन ने वन चाइल्ड पालिसी अख्तियार करके जनसंख्या वृद्धि को तो काफी हद तक नियंत्रित कर लिया है पर  इन नीतियों से पूरे चीन में लड़कियों की संख्या लड़कों से काफी कम हो गयी है.

ऐसी स्थिति मेंं चीन मे कुंवारों के सामने लड़कियों से रिश्ते बनाना आसान नहीं होता और पहली बार लड़कियों से कैसे मिला जाए ये सिखाने के लिए बाकायदा प्रशिक्षण की जरूरत  भी पड़ती है.

वैसे तो इन डेटिंग स्कूलों की मानें तो डेटिंग किसी डांस की तरह ही हुनर का काम है जिसमें कभी पार्टनर को खींचना होता है तो कभी दूर करना और ये सब सीखने के लिए अगर किसी चीनी युवक के पास समय नहीं है तो लो इसका आनलाइन कोर्स भी कर सकता है.

वैसे तो इन स्कूलों के छात्र 19 साल से 59 साल तक के होते हैं पर सबसे बड़ी संख्या 23 से 33 साल तक के युवाओं की होती है.

चीन में इस नए धंधे की शुरुआत  2014 से हुई है और इस समय ऐसे तीन सौ से ज्यादा स्कूल हैं और इनकी फीस तीन हजार अमेरिकी डालर सीधे कोर्स करने पर और 45 से 60 डालर आनलाइन कोर्स करने पर है.

Spread the love

Leave a Comment