Share
अब ऐप्पल के सामने फेसबुक की नहीं चलेगी…

अब ऐप्पल के सामने फेसबुक की नहीं चलेगी…

फेसबुक जैसी डाटा चोर कम्पनी की लगाम कसते हुए ऐप्पल ने घोषणा की है कि वो जल्द ही ऐसी व्यवस्था कर रही है कि डेटा कम्पनियां उसके उपभोक्ताओं का ब्योरा हासिल ही न कर सके.

एप्पल की वर्ड वाइड डेवलेपर्स कांफ्रेस में कम्पनी के साफ्टवेयर वाइस प्रेसिडेंट क्रेग फेडरेगी ने कहा कि सितम्बर से आई फोन कुछ ऐसे फीचर लेकर आ रही है जिससे फेसबुक और इसकी तरह की और कम्पनियां हमारे उपभोक्ताओं को ट्रैक नहीं कर सकेगी.

ये कम्पनियां जिन तरीकों से दुनिया भर में इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों को ट्रैक करती हैंं उसमें प्रमुख है डिजिटल फ्रिंटिंग प्रिंट जिसके लिए आईओएस और मैक दोनों के लिए सफारी बेव ब्राउजर में एक नया साफ्टवेयर तैयार है क्योंकि  किसी उपभेक्ता का डिजिटल फिंगर प्रिंट उसके कम्प्यूटर का फिंगर प्रिंट और जो प्लग-इन वो इस्तेमाल कर रहा है उसे मिलाकर तैयार होता है.

एप्पल ने ऐसी व्यवस्था कर  दी है कि आईफोन इस्तेमाल करने वालों को प्लग-इन से भी ट्रैक नहीं किया जा सकेगा क्योंकि जैसे ही कोई व्यक्ति फेसबुक के सिस्टम की मदद लेकर किसी उससे जुड़ी बात पर टिप्पणी करता है प्लग इन उसका पता डाटा कम्पनियों को दे देतें हैं.

इसके साथ ही उपभोक्ता द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे फान्ट से उसका पता  लगाना भी ऐप्पल अपनी नई डिवाइस में खासा मुश्किल बनाने जा रहा है.

 

 

Spread the love

Leave a Comment