Tuesday, October 17 2017
BREAKING NEWS

नितीश कुमार को सबक सिखाने को लालू का बड़ा प्लान….

नितीश कुमार को सबक सिखाने को लालू का बड़ा प्लान....

नितीश कुमार को सबक सिखाने को लालू का बड़ा प्लान….

इसमें कोई दो राय नहीं कि नितीश कुमार से मिले कथित धोखे से तिलमिलाए लालू यादव अब पूरा एहतियात बरतते हुए अगली रणनीति तैयार करने में लगे हैं और इसी के तहत वो अब शरद यादव की अगुवाई में पूरे विपक्ष को बिहार में एकजुट करना चाहते हैं.

वैसे लालू का दर्द आज फिर ट्विटर पर छलकर आया जिसमें उन्होंने नितीश कुमार को अविश्वास कुमार, भरोसे का हत्यारा और जनमत का कातिल तक लिख डाला पर वो भी जानते जुमलेबाजी से भड़ास तो निकाली जा सकती है पर सबक नही सिखाया जा सकता.

बहरहाल, रणनीति के तहत ही उन्होंने शरद यादव को भाजपा के खिलाफ छेड़े जाने वाले बड़े संघर्ष की कमान सम्भालने का न्योता दो दिन पहले ही ट्वीट करके दे दिया है.

इस ट्वीट में लालू यादव ने लिखा है कि ग़रीब,वंचित और किसान को संकट-आपदा से निकालने के लिये हम नया आंदोलन खड़ा करेंगे…शरद भाई,आइये सभी मिलकर दक्षिणपंथी तानाशाही को नेस्तनाबूद करे.

बेदाग शरद यादव की पकड़ भले ही जद-यू पर नितीश कुमार से कम हो पर वो राजनीति में उनके सीनियर है और अपनी भाजपा विरोधी छवि के लिए जाने जाते और इधर मोदी सरकार के प्रति ट्विटर पर लगातार हमलावर भी बने हुए हैं.

नए राजनीतिक समीकरणों में शरद यादव की अहमियतत भाजपा भी समझती है और शायद इसीलिए केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने उनसे मुलाकात की और इस मुलाकात के बाद यह खबर भी प्रचारित कराई गई कि शरद यादव को केंद्र में मंत्री बनने का आफर दे दिया गया है.

अब इसे स्वीकार करें या न करें इसे लेकर शरद यादव के मस्तिष्क में हो सकता है मंथन चल रहा हो क्योंकि पर यह सवाल भी जायज है कि अगर वो मंत्री पद ठुकराकर लालू यादव के साथ आते हैं तो उन्हें क्या मिलेगा.

बताया तो यह जा रहा है कि लालू यादव ने लड़ाई जीतने पर बिहार की बागडोर उनके हाथो में देने का वादा कर लिया है साथ ही नितीश के भाजपा विरोधी साथियों और विधायकों की गोलबंदी में भी लालू लगे हुए हैं.

About the Author

Related Posts

Leave a Reply

*

Powered By Indic IME